जानें क्या है लिपोसक्शन। लिपोसक्शन का क्या अर्थ है?

MediBuddy
MediBuddy

Table of Contents

what is liposuction procedure

क्या है लिपोसक्शन?

वजन घटाने के लिए लोग डाएट, व्यायाम से लेकर घरेलू और आयूर्वेदिक नुस्खों तक क्या कुछ नहीं अपनाते हैं। कुछ को इनसे फायदा मिलता है लेकिन कई लोगों को निराशा हाथ आती है। बढ़ता वजन कई बिमारियों को न्योता भी देता है। इस समस्या से निजात पाने के लिए अब लिपोसक्शन प्रक्रिया को तेजी से अपनाया जाने लगा है। लिपोसक्शन एक प्रकार की कॉस्मेटिक सर्जरी है जिसमें आप अपने शरीर से मनचाहे हिस्से से फैट हटवा सकते हैं। हालांकि लिपोसक्शन को वजन घटाने की प्रक्रिया नहीं कहा जा सकता है। इसमें बस आपके शरीर में इकट्ठा फैट को सर्जरी के माध्यम से हटाकर आपको मनचाहा आकार दे दिया जाता है।

लिपोसक्शन का अर्थ:

अगर आप मोटापे से परेशान हो चुके हैं और अब लिपोसक्शन के बारे में विचार कर रहे हैं तो पहले आपको यह जान लेना चाहिए कि लिपोसक्शन क्या है, लिपोसक्शन का अर्थ क्या होता है और इसे कब किया जाना चाहिए। लिपोसक्शन एक सर्जरी को कहते हैं जिसमें शरीर में जमा फैट को हटाया जाता है। इसकी जरूरत तब पड़ती है जब शरीर में जमा फैट न ही डाएट से कम हो रहा हो और न ही व्यायाम से। वजन घटाने के सभी तरीकों से हार जाने के बार आप लिपोसक्शन सर्जरी करवा सकते हैं। इसमें एडिपोसाइट नाम के फैट सेल को शरीर से हमेशा के लिए हटा दिया जाता है। लिपोसक्शन को लिपोप्लास्टी, लिपोस्कल्पचर सक्शन, लिपेक्टॉमी या लिपो भी कहते हैं।

लिपोसक्शन की प्रक्रिया:

लिपोसक्शन करवाने से पहले आपको यह जान लेना जरूरी है कि यह सर्जरी सिर्फ आपके शरीर को मनचाहा आकार देती है। यह न ही वजन घटाने की प्रक्रिया है और न ही इससे ओबेसिटी से निपटा जा सकता है। लिपोसक्शन सर्जरी में एक खोखले उपकरण का इस्तेमाल किया जाता है जिसे कैन्यूला कहते हैं। इसे त्वचा के भीतर उस जगह डाला जाता है जहां से आप फैट हटाना चाहते हैं। इस कैन्यूला में ज्यादा प्रेशर वाला वैक्यूम बनाया जाता है जो आपके फैट को तोड़कर उसे शरीर से खींचकर बाहर निकाल देता है। यह सर्जरी जनरल एनेस्थीशिया देकर यानी बेहोश करके की जाती है। शरीर के अलग अलग हिस्सो के लिए लिपोसक्शन की अलग अलग प्रक्रिया अपनाई जाती है। लिपोसक्शन की आम तौर पर चार प्रक्रियाएं होती हैं:

1.   ट्यूमेसेंट लिपोसक्शन

2.   सुपर-वेट तकनीक

3.   अल्ट्रासाउंड लिपोसक्शन

4.   लेजर लिपोसक्शन

कब करवाना चाहिए लिपोसक्शन ?

आम तौर पर सही Yभोजन और व्यायाम करके आप मनचाहा आकार प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन अगर आपकी सारी कोशिशें नाकाम हो रही हैं तो लिपोसक्शन आपके लिए एक विकल्प है। आम तौर पर लिपोसक्शन सर्जरी की सलाह तब ही दी जाती है जब जीवनशैली में बदलाव के बावजूद आपको मन माफिक नतीजे न मिले हों। ऐसे में मनचाही जगह से फैट हटवाकर आप अपने मन का आकार प्राप्त कर सकते हैं।

आम तौर पर लिपोसेक्शन में पेट, नितंब, जांघ, गर्दन, ढोड़ी, पीठ, बांह में मौजूद चर्बी को हमेशा के लिए हटाया जाता है। हालांकि, इसमें ध्यान देने वाली बात यह है कि इस सर्जरी की मदद से बहुत ही सीमित मात्रा में फैट निकाला जाता है जिससे शरीर के आकार में कुछ सेंटीमीटर या इंच का ही फर्क पड़ता है। आकार के अलावा आप कुछ मेडिकल परिस्थितियों में भी लिपोसक्शन करवाकर अपनी सेहत को बेहतर बना सकते हैं।

अगर शरीर की कोषिकाओं में पानी भरने की समस्या आ रही है तो लिपोसक्शन सर्जरी आपके काम की है। इसी तरह अगर शरीर में केवल एक ही जगह पर चर्बी जमा होती है तब भी आप इस प्रक्रिया का लाभ उठा सकते हैं। इसके अलावा गाइनीकमासटिया, लिपोमास, लिपोडिस्ट्रोफी सिंड्रोम जैसी मेडिकल परिस्थितियों में लिपोसक्शन सर्जरी करवा सकते हैं।

लिपोसेक्शन के फायदे:

·        लिपोसक्शन सर्जरी की मदद से आप अपने शरीर से मनचाही जगह से चर्बी हटवा सकते हैं। इससे व्यक्ति के मनोबल पर अच्छा प्रभाव पड़ता है।

·        लिपोसक्शन का असर लंबे समय तक बना रहता है। इसके बनाए रखने के लिए व्यक्ति बेतर जीवनशैली को अपनाने लगता है।

·        लिपोसक्शन सर्जरी की मदद से लिपोमास हटाया जाता है जो एक तरह का बिनाइन ट्यूमर होता है।

·        कुछ पुरुषों को भारी वक्ष की समस्या होती है जिसे लिपोसक्शन की मदद से ठीक किया जा सकता है।

·        लिपोसक्शन की मदद से लिपोडिस्ट्रोफी सिंड्रोम का उपचार किया जा सकता है। यह एक प्रकार का फैट है जो मेटाबॉलिज्म को खराब करता है और शरीर के किसी एक भाग में चर्बी को इकट्ठा करता है।

लिपोसक्शन सर्जरी के साइड इफेक्ट:

बेहतर आकार के लिए आप लिपोसक्शन विकल्प को चुन सकते हैं। लेकिन उससे पहले इसके साइड इफेक्ट के बारे में जानना जरूरी है। लिपोसक्शन सर्जरी के बाद कुछ दिनों तक आपको सर्जरी वाली जगह पर सूजन महसूस हो सकती है। इस सर्जरी के बाद शरीर में सर्जरी के निशान भी आ जाते हैं। हालांकि ये बहुत बारीक होते हैं। इसके अलावा अगर चर्बी सही से न निकाली गई तो शरीर का आकार बिगड़ भी सकता है। इस सर्जरी में बेहोश किया जाता है इसलिए एनेस्थीशिया का दुष्प्रभाव भी हो सकता है। इसके अलावा ब्लीडिंग, त्वचा के नीचे पानी एकत्रित होने, संक्रमण या शरीर के अंदरूनी भागों के प्रभावित होने की समस्या भी सामने आ सकती है।

निष्कर्ष:

लिपोसक्शन से शरीर की चर्बी हमेशा के लिए हटवाकर आप भी प्राप्त कर सकते हैं मनचाहा आकार। अगर आप भी लिपोसक्शन करवाना चाहते हैं तो अपने शहर में मेडीबडी से संपर्क कर सकते हैं। मेडीबडी में डॉक्टर के साथ मरीज के लिए अपॉइंटमेंट बुक करना, हॉस्पिटल में उनकी जगह सभी पेपर वर्क पूरा करना, और मरीज की अच्छे से देखभाल के लिए एक केयर बडी मुहैया कराना आदि शामिल है। अगर आप भी लिपोसक्शन के बारे में और जानना चाहते हैं तो हमें कॉल कर सकते हैं या फिर अपॉइंटमेंट बुक कर सकते हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल:

प्र.1 भारत में लिपोसक्शन कितने रुपए में होता है?

भारत में लिपोसक्शन सर्जरी की शुरूआत करीब 55 हजार रुपए से होती है वहीं इसकी अधिकतम कीमत 1,20,000 रुपए है।

प्र.2 भारत में लिपोसक्शन कहां करवाया जा सकता है?

भारत में लिपोसक्शन सर्जरी आज हर बड़े शहर में उपलब्ध है। भारत के सभी टियर 1 और टियर 2 शहरों में आप यह सेवा प्राप्त कर सकते हैं। भारत में लिपोसक्शन सर्जरी को 89 प्रतिशत तक सुरक्षित माना जाता है।

Reference Links:

https://my.clevelandclinic.org/health/treatments/11009-liposuction

https://www.medicalnewstoday.com/articles/180450#uses

https://www.cosmeticandobesitysurgeryhospitalindia.com/blog/top-10-liposuction-surgeons-in-india/

https://www.thenewyou.in/9-health-benefits-of-liposuction-surgery/